Click to Download this video!

जिगोलो बनने से मेरे जीवन में आया परिवर्तन

Gigolo banne se mere jiwan me aaya parivartan:

hindi sex stories, antarvasna

मेरा नाम श्याम है मैं बिहार के एक छोटे से कस्बे का रहने वाला हूं, मेरी उम्र 25 वर्ष है। हमारे कस्बे में कोई आय का साधन ना होने के कारण मुझे दिल्ली का रुख करना पड़ा, जब मैं पहली बार दिल्ली गया तो मुझे कुछ भी नहीं पता था, मैं जैसे ही स्टेशन से बाहर आया तो दिल्ली की भीड़ देख कर मुझे ऐसा लगा जैसे पता नहीं मैं कहां आ गया लेकिन मुझे अब काम तो दिल्ली में ही करना था। मैं सिर्फ 12वीं तक ही पढ़ा था और मैंने 12वीं के बाद आगे की पढ़ाई नहीं की क्योंकि कॉलेज हमारे कस्बे से काफी दूर था इसीलिए मैंने सोचा कि अब 12वीं के बाद आगे की पढ़ाई छोड़ ही दी जाए, उसके बाद से मैं छोटे-मोटे काम कर के अपना गुजारा करने लगा, कुछ समय तक तो मैंने गांव में ही एक दुकान में काम किया, वह मुझे बहुत कम तनख्वाह देता था लेकिन उससे मेरा खुद का खर्चा निकल जाता था इसलिए मैंने वहां पर काम किया।

जब मैं दिल्ली पहुंचा तो दिल्ली में मैं ज्यादा किसी को नहीं पहचानता था, मैंने सबसे पहले तो अपने रहने की व्यवस्था कर ली, मैंने एक छोटा सा कमरा किराए पर लिया, वह कमरा इतना छोटा था उसमें एक पलंग भी बड़ी मुश्किल से घुस रही थी लेकिन जैसे तैसे मैंने वह पलंग वहां घुसा दी। मेरे पास कुछ काम नही था लेकिन मैं जहां रहता था उन्हीं मकान मालिक ने मुझे काम दिलवा दिया, उन्होंने मुझे एक ऑफिस में नौकरी पर लगा दिया, वहां पर मैंने प्यून की नौकरी की, मैं वहीं पर प्यून की नौकरी करने लगा और मुझे जितने भी पैसे मिलते मैं उन पैसों में से थोड़े बहुत पैसे अपने घर भेज दिया करता था। मेरा जीवन चक्र ऐसे ही चलने लगा लेकिन मैं दिल्ली आकर संतोष था कि मुझे अब ठीक-ठाक पैसे मिलने लगे हैं, मैं खाना भी खुद ही बनाता था। एक दिन मैं अपने ऑफिस जा रहा था तो मैं पैदल पैदल ही अपने दफ्तर की तरफ जा रहा था क्योंकि मैं जिस जगह रहता था वहां से कुछ दूरी पर ही मेरा ऑफिस था, मुझे गांव में पैदल चलने की आदत थी इसलिए मैं सुबह पैदल ही जाता था और शाम को भी मैं पैदल ही ऑफिस से लौटता। रास्ते में मेरे आगे एक बड़ी सी गाड़ी रुकी, मैं सीधा आगे की तरफ बढ़ने लगा लेकिन तभी मुझे पीछे से किसी ने आवाज दी, मैं जब पीछे मुड़ा तो मैंने देखा वह तो रमन है, रमन को देख कर मैं बहुत खुश हो गया, रमन कहने लगा भैया तुम यहां कब आए? मैंने रमन से कहा क्या यह तुम्हारी गाड़ी है? रमन कहने लगा हां यह मेरी गाड़ी है।

मैं तो रमन के ठाठ बाट देखकर खुश हो गया, मैंने उसे कहा तुम तो बिल्कुल ही बदल चुके हो और तुम पहचान ही नहीं आ रहे हो, तुम्हारा कपडे पहनने का भी स्टाइल बिल्कुल बदल गया है, वह कहने लगा अरे भैया बस यह दिल्ली है दिल्ली में आकर सब बदल जाते हैं। मैंने उसे कहा लेकिन मैं तो नहीं बदला, मैं तो अभी भी प्यून की नौकरी कर रहा हूं, वह मुझे कहने लगा तुम क्या बात कर रहे हो, तुम प्यून की नौकरी कर रहे हो? मेरे होते हुए क्या तुम काम करोगे? मैंने उससे कहा अरे भैया मुझे बड़े सपने मत दिखाओ, मैं अपनी उस नौकरी से ही खुश हूं और थोड़े बहुत पैसे अपने घर में भिजवा देता हूं। वह कहने लगा तुम मेरे साथ कुछ देर तो बैठो, मैंने उसे कहा अभी तो मेरे पास वक्त नहीं है, मैं अभी जल्दी में हूं क्योंकि मुझे ऑफिस जल्दी पहुंचना है, मैं तुम्हें अपनी छुट्टी के दिन फोन करता हूं। उसने मुझे अपना विजिटिंग कार्ड दिया और कहा कि तुम मुझे जरुर फोन करना, यह कहते हुए मैं भी अपने ऑफिस की तरफ चला गया और वह भी जा चुका था, मैं जब अपने ऑफिस में पहुंचा तो मैंने सोचा कि रमन तो बहुत बदल गया है और उसकी स्थिति भी बिलकुल अच्छी हो चुकी है। जब मैं घर लौटा तो मेरी वही पुरानी जिंदगी चल रही थी, मैं खुद ही रह रहा था और खुद के लिए खाना बना रहा था, छुट्टी के दिन जब मैंने रमन को फोन किया तो रमन कहने लगा तुम मेरे घर पर आ जाओ, मैंने उससे कहा कि क्या तुमने घर भी ले लिया है? वह कहने लगा जब मैं गाड़ी लेकर घूम रहा हूं तो क्या घर नहीं लूंगा, घर तो पहले रहने के लिए चाहिए। उसने मुझे अपने घर का पता दिया और मैं बस से उसके घर पहुंच गया, मैं जब उसके घर पहुंचा तो उसका घर भी बड़ा अच्छा था, उसने बड़े-बड़े झूमर लगाए हुए थे और उसका सोफा भी बड़ा महंगा प्रतीत हो रहा था।

मैंने रमन से कहा क्या तुम यहां अकेले रहते हो? वह कहने लगा हां मैं यहां अकेला ही रहता हूं। मैं तो उसके शौक को देखकर बहुत खुश था, मैंने उसे पूछा तुम तो बिल्कुल बदल चुके हो? गांव में तो तुम बड़े ही शरीफ रहे लेकिन यहां आकर तो तुम्हारा अलग रुबाब हो गया है, रमन मुझे कहने लगा बस भैया बहुत मेहनत की है इसलिए तो यह सब कुछ हासिल कर पाया। वह मुझे कहने लगा कि खैर तुम यह बात छोड़ो, तुम यह बताओ कि तुम नौकरी कब छोड़ रहे हो और तुम मेरे साथ कब काम कर रहे हो? मैंने उसे कहा तुम मुझे क्यों झूठे सपने दिखा रहे हो। वह कहने लगा नहीं तुम कल से मेरे साथ ही काम करोगे और मेरे साथ ही रहोगे, मैं तुम्हें उसके बदले कुछ पैसे दूंगा। मैं सोचने लगा कि जब मुझे अच्छे पैसे मिल रहे हैं तो मैं क्यों ना रमन के साथ ही रहूं, वह मुझे कहने लगा तुम मेरे साथ मेरे घर पर ही रहोगे, मैंने सोचा कि जब इतनी अच्छी जिंदगी मिल रही है तो मुझे रमन के साथ ही रहना चाहिए, मैं रमन के साथ ही रहने लगा था। मैं रमन के साथ ही रहने लगा, एक दिन मैंने रमन से पूछा भैया तुम करते क्या हो तुम मुझे तो बताओ।

वह कहने लगा बस तुम मेरे साथ आराम से रहो और मजे करो। कुछ दिनों तक उसने मुझे कुछ भी नहीं बताया, एक दिन जब उसने एक अधेड़ उम्र की महिला को बुलाया तो वह मुझे कहने लगा यार आज मेरा मन नहीं हो रहा तुम इसकी चूत मारकर इसकी खुजली मिटा दो। उसके बदले रमन ने मुझे अच्छे पैसे भी नहीं दिए पैसे देखकर मेरी आंखें फट गई, मैं उसकी चूत मारने के लिए तैयार हो गया। मैं जब उसे अंदर कमरे में लेकर गया उसने मेरे लंड को बहुत देर तक चूसा, मैंने जब उसके कपड़े उतारे तो वह इतनी भी बुरी नहीं थी। मुझे लगा था वह बिल्कुल ही बेकार होगी लेकिन उसकी गांड का साइज देखा तो मेरा लंड एकदम तन गया, मैं उसकी गांड में अपने लंड को डालने के लिए आतूर होने लगा। मैंने उसके बदन को बहुत अच्छा स चाटा, जब मेरा लंड पूरी तरीके से खड़ा हो गया तो मैंने उसकी योनि के अंदर अपने लंड को डाल दिया। जब मेरा लंड उसकी योनि के अंदर प्रवेश हुआ तो वह मुझे कहने लगी तुम्हारा लंड तो बड़ा ही मोटा है। मैंने उसे कहा मैं तो कई दिनों से भूखा बैठा था  मैने कई दिनो से चूत नहीं मारी थी। यह कहने के बाद मैंने उसे बड़ी तेज गति से चोदना शुरु किया, जब मेरा वीर्य पतन हो गया तो मैने अपने वीर्य को साफ किया, उसकी योनि को भी साफ किया। मैंने जब उसकी गांड को अपने हाथ में पकड़ा तो मेरा मूड खराब हो गया, मुझे उसकी गांड मारने की इच्छा जाग गई। मैंने जैसे ही अपने मोटे लंड को उसकी गांड पर सटाया तो वह कहने लगी तुम्हारे लंड बहुत मोटा है तुम मेरी गांड के अंदर धीरे डालना। मैंने बड़ी तेजी से अपने लंड को उसकी गांड के अंदर डाल दिया, जैसे ही मेरा लंड उसकी गांड के अंदर घुसा तो वह चिल्ला उठी और कहने लगी तुम्हारा लंड अपनी गांड में लेकर मुझे बहुत मजा आ रहा है। मैंने उसे बड़ी तेज गति से धक्के दिए, जब मेरा वीर्य गिरने वाला था तो मैंने उसकी गांड से अपने लंड को बाहर निकालते हुए उसके मुंह के अंदर अपने वीर्य को गिरा दिया। उसने मेरे वीर्य को अपने अंदर निगल लिया, वह इतनी ज्यादा खुश थी, जब वह रम से बाहर जा रही थी तो रमन को कहने लगी तुमने तो कमाल का लड़का रखा है इसने मुझे खुश कर दिया और मेरी इच्छा भी अच्छे से पूरी कर दी मैं दोबारा से आऊंगी तुम ऐसे ही लड़के मुझे दिलवाते रहो। यह कहते हुए वह चली गई उसके बाद मुझे सारा माजरा समझ आया लेकिन मुझे पैसों की नशा चढ़ गया था, मैं अब एक जिगोलो बन गया हूं।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


meri maa ko boos ne bahot mote land se gaand fadiantarvasna bhai bahan chudaisex bhabi sexschool me teacher ki chudaichudai story freejijaji ne gand maribahan ki chudai photowww jija sali ki chudai compunjabi saxyrekha hindi sexbahan ko chodne ki kahanibhabhi devar ki chudai hindi mekahani mom ki chudaiantarvasna chudai imagesagi bhabhi ki chudaidevar bhabhi ki sexy kahanichudakkad maa ne gand mara li xxx Hindi storymaa bete ki chudai ki dastankhala ki chootrani ki chutkajal ki chut marichudai ke majesali fuck storymarwadi aunty storyrandi bhabhi chudaidevar bhabhi ki sexy kahaniwww hindi saxkamleelasexi muvispehli baar chodaantarvasna free sex storyhindi aunty sexy storybahen ko kese chodadevar bhabhi new story in hindichudai xxx commaa ko chodnaschool girl ki chudai ki kahaniantarvasnana pdfbhabhi ki chudai story in hindi fonthindi sexy story and photobio teacher ko chodateacher ko choda school meWww.mastramstorise.comchudai lund kisex chut storynaukar malkinbeta aur maa ki chudaimaa ki gand ki chudaibehan or bhai ki chudaibhabhi chuchi13 saal ki bahan ko chodachuddakad maa ko nanajee nechodadesi bhabhi ki chootdelhi ki ladki ki chudaiaunty ki real chudaihot marathi kahanigand or chutbhbi ke sath shugrat sexkhaniyaindian aunty ki chudai storygaand mar liaunty ki chudai hindi sexy storychudai dekhi maa kipadosan bhabhi ki chudailund or chut ki storychoot mastichodai ki khaniyansexy setorisex kahani with picsantarvasna coxnxx himdisexi bhavichut or lodachut land burgang chudai storysushma ki chudaisuhagrat picrajsthani sexymaa beta hindi sex kahaniantrabasna comchudai kahani bhabhi kiaunty ki beauty parler mai jamkar gaand mari kahanichudai ki photo aur kahani