Click to Download this video!

सौतेली मौसी की मदमस्त गांड

Sauteli mausi ki madmast gaand:

antarvasna, desi porn stories

मेरा नाम राकेश है मैं लखनऊ का रहने वाला हूं, मेरी उम्र 30 वर्ष है। मैंने अपने कॉलेज की पढ़ाई लखनऊ से ही की है, मेरी मां का देहांत 15 वर्ष पहले ही हो चुका है और उसके बाद मेरे पिताजी ने दूसरी शादी कर ली। वह दूसरी शादी नहीं करना चाहते थे लेकिन हमारे रिश्तेदार उनके पीछे पड़े हुए थे और कहने लगे कि राकेश को मां की जरूरत है, आप दूसरी शादी कर ही लीजिए। मेरे पिताजी ने भी मजबूरी में शादी कर ली, वह मुझसे बहुत प्यार करते हैं और उन्होंने मुझे कभी भी किसी चीज की कमी नहीं होने दी लेकिन मेरी सौतेली मां मुझ में और मेरे छोटे भाई में भेदभाव करती है क्योंकि वह उनका ही लड़का है, उससे वह  बड़े प्यार से बात करती हैं और यदि मुझसे कभी कोई गलती हो जाती है तो वह मुझे बहुत सुना देती हैं लेकिन मैंने भी कभी उनकी शिकायत अपने पिताजी से नहीं की और ना ही मेरे दिल में उनके लिए कोई ऐसी नफरत है।

मैं भी बड़ा हो चुका हूं तो एक दिन मेरे पिता जी कहने लगे कि बेटा अब हम तुम्हारी शादी करवा देते हैं, मैंने अपने पापा से कहा कि पहले मैं अपने पैरों पर खड़ा होना चाहता हूं उसके बाद ही मैं शादी करना चाहता हूं। मेरे पापा कहने लगे कि जो कुछ भी मैंने कमाया है वह सब कुछ तुम्हारा ही तो है, मैंने उनसे कहा वह तो आप बिल्कुल सही कह रहे हैं लेकिन फिर भी मैं अपने दम पर कुछ करना चाहता हूं और उसके बाद ही मैं शादी करूंगा, मेरे पापा कहने लगे ठीक है बेटा जैसा तुम्हें अच्छा लगता है तुम देख लो। उन्होंने भी मुझ पर ही सब कुछ छोड़ दिया, मैं शादी तो वैसे भी नहीं करना चाहता था क्योंकि यदि मेरी शादी हो जाती तो मेरी सौतेली मां और मेरी पत्नी के बीच में झगड़े होते तो उससे मेरे पिताजी को तकलीफ होती इसी के चलते मैंने शादी का निर्णय अपने दिमाग से निकाल दिया और मैंने सोचा कि पहले मैं खुद कुछ कर लेता हूं ताकि मेरे पास कुछ होगा तो मेरी पत्नी को तकलीफ नहीं होगी।

मैं उसके बाद कुछ काम शुरू करने की सोच रहा था, मैंने अपने पापा से मदद भी ली और मेरे पापा ने मेरे लिए एक इलेक्ट्रॉनिक की दुकान खोल कर दे दी, मेरा काम भी अच्छा चलने लगा क्योंकि मैंने जिस जगह पर दुकान खोली थी वहां काफी भीड़ होती है और मेरा काम अब अच्छा चलने लगा तो मैं धीरे धीरे पैसे जमा करने लगा, जब मुझे लगा कि अब मुझे शादी कर लेनी चाहिए तो मैंने अपने पापा से यह बात कह दी लेकिन अब मेरी सौतेली मां मेरे रिश्ते के आगे अड़ंगा बनने लगी, वह कोई भी अच्छा रिश्ता आता तो उसमें वह नुक्स निकाल देती और कहती की यह लड़की तो राकेश के लिए अच्छी नहीं है। कुछ समय तक तो वह लोग मेरे लिए लड़की देख रहे थे लेकिन फिर मैंने सोचा कि मैं खुद ही थोड़े समय बाद अपने लिए कोई लड़की देख लूंगा, मैंने भी अपने दिमाग से शादी का विचार निकाल दिया और अपने काम पर ही में ध्यान देने लगा। मेरे काम भी आगे बढ़ने लगा था इसलिए मैंने अपनी दुकान में स्टाफ भी बना लिया जो कि मेरा काम संभालने लगा, अब मेरे पास काफी अच्छे कस्टमर आने लगे थे। रविवार के दिन मैं हमेशा दुकान को बंद रखता था, रविवार के दिन मैं घर पर ही था, उस दिन मेरी सौतेली मां की बहन रीमा घर पर आ गई, उसकी उम्र भी मुझसे दो-तीन वर्ष बड़ी है और उसकी शादी भी हो चुकी है लेकिन वह नेचर से बिल्कुल भी अच्छी नहीं है वह हमेशा मुझे देख कर अपना मुंह ऐसा फुला लेती है जैसे कि वह मुझ पर कोई एहसान कर रही हो लेकिन मैं भी मजबूर हूं, मैं उनसे कुछ नही कह सकता क्योंकि उससे मेरा रिश्ता है और वह रिश्ते में मेरी मौसी लगती है। मैं उस दिन घर पर ही था तो वह मेरे पास आकर बैठ गई और कहने लगी और राकेश बाबू आपका क्या चल रहा है? मैंने उसे कहा बस क्या चलना है मैं अपने काम पर लगा हूं और अपने काम पर ही ध्यान दे रहा हूं। वह मुझे कहने लगी सुना है तुम्हारे लिए लड़की ढूंढ रहे हैं? मैंने कहा हां देख तो रहे हैं लेकिन अभी तक कोई अच्छी लड़की नहीं मिली। वह मुझे कहने लगी यदि तुम कहो तो मैं तुम्हारे लिए कोई लड़की देख लेती हूं, तुम मुझे बता दो कि तुम्हारी पसंद कैसी है, मैं तुम्हारे लिए जरूर कोई अच्छी लड़की देख लूंगी।

जब उन्होंने मुझसे यह बात कही तो मैंने कहा, नहीं मैं खुद ही लड़की देख लूंगा, वह कहने लगी क्यों क्या तुम मुझसे इतनी ज्यादा नफरत करते हो आखिरकार मैं तुम्हारे रिश्ते में मौसी लगती हूं, मैंने कहा नहीं कोई बात नहीं मैं खुद ही लड़की देख लूंगा। वह मुझे अपने फोन में लड़कियों की तस्वीर दिखाने लगी ना जाने वह किस किस की तस्वीरें मुझे दिखा रही थी मैं उन तस्वीरों को देख तो रहा था लेकिन मेरा ध्यान कहीं और ही था। वह मुझे कहने लगी देखो यह कितनी सुंदर लड़कियां है, मैंने कहा हां आप कह रहे हो तो ठीक ही होगी आप मुझे अपना फोन दे दीजिए, मैं उनके फोन में लड़कियों की तस्वीरें देखने लगा ना जाने उनके पास इतनी तस्वीरें कहां से आई, मैंने उनसे पूछा कि क्या आपने कोई मैरिज ब्यूरो खोल लिया है? वह कहने लगी नहीं मैंने कोई मैरिज ब्यूरो नहीं खोला है बस यह तो हमारी कॉलोनी की लड़कियां हैं। मैंने कहा आपकी कॉलोनी में तो बहुत ही सुंदर लड़कियां हैं। मैं जब उनके फोन को टटोल रहा था तो मैंने उनकी एक नंगी तस्वीर देख ली जिसमें कि उन्होंने कुछ भी नहीं पहना हुआ था। मैंने उन्हें कहा यह क्या है? वह घबरा कर अपने फोन को मुझसे  छीनने की कोशिश करने लगी।

मैंने उन्हें कहा अब तो मैं आपका फोन नहीं देने वाला, मैंने उनके स्तनों पर हाथ रखा और कहा आपके स्तन तो बड़े ही फूले हुए हैं क्या मै आपका दूध पी सकता हूं? वह कहने लगी ठीक है तुम शाम के वक्त मेरे स्तनों का दूध पी लेना। मैंने कहा नहीं मैं अभी आपके स्तनों का दूध पीना चाहता हूं, उन्होंने कहा ठीक है तो चलो फिर कहां चलना है यहां पर तो दीदी देख रही हैं। मैंने उन्हे कहा आप मेरे कमरे में चलो मैं आपके पीछे आता हूं। वह मेरे रूम में चली गई जैसे ही मैं कमरे में गया तो मैंने कमरा बंद कर लिया, मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया। मैंने जब उनके कपड़े खोले तो उनके स्तनों का मै रसपान करने लगा उनके स्तनों को मैंने काफी अच्छे से चूसा, जैसे ही उनका दूध बाहर निकला तो मैंने कहा आपका स्तन तो बडे ही मजेदार है। मैं इतना ज्यादा उत्तेजित हो गया कि मैंने उनके स्तनों पर अपने दांत के निशान भी मारने लगा वह कह रही थी ऐसे मत करो मैंने कहा इसी में तो मजा है। आप मेरे लिए लड़की देख रही थी मैं आपको बताता हूं मुझे कैसी लड़की चाहिए। मैंने उनके बदन के सारे कपड़े उतार दिए, मैंने उनकी चूत के अंदर अपनी उंगली डाली तो वह मूड मे आ गई, मैंने अपनी उंगली को उनकी चूत के अंदर बाहर करना शुरू कर दिया वह पूरे मजे में आ गई। मैंने जब अपने लंड को उनकी चूत के अंदर घुसाया तो वह उत्तेजित हो गई थी। मैं उन्हें बड़ी तेजी से चोदता, वह अपने पैरों को चौड़ा करने लगी। मैंने उनके पैरों को कसकर पकड़ लिया और मैं उनकी चूत का मजा ज्यादा देर तक नहीं ले पाया जैसे ही मेरा वीर्य रीमा मौसी की योनि में गिरा तो मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ। उसके कुछ देर बाद तक तो उन्होंने मेरे लंड को सकिंग किया, जब मेरा लंड दोबारा से 90 डिग्री पर खड़ा हो गया तो मैंने अपने लंड पर तेल लगाते हुए उसे पूरा चिकना बना दिया और जैसे ही मैंने अपने लंड को रीमा मौसी की गांड पर लगाया तो वह मचलने लगी। मैंने धीरे धीरे उनकी गांड के अंदर अपने लंड को प्रवेश करवा दिया, जैसे ही मेरा लंड उनकी गांड के अंदर प्रवेश हुआ तो मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ। उन्हें बहुत दर्द होने लगा लेकिन मुझे बहुत मजा आ रहा था, मैं उन्हें तेजी से झटके दिए जा रहा था, मेरा लंड उनकी गांड के पूरे अंदर तक जा रहा था। जब मै अपने लंड को उनकी गांड के अंदर बाहर करता तो मुझे उतना ही ज्यादा मजा आता। उनकी गांड का छेद बहुत ही छोटा सा था लेकिन मुझे उन्हें धक्के मारने में बड़ा मजा आता, मैंने उनकी गांड का मजा 2 मिनट तक लिया। 2 मिनट में मुझे इतना ज्यादा मजा आया कि जैसे मेरी इच्छाएं पूरी हो गई हो और मैंने अपने लंड को बाहर निकालते हुए उन्हें कहा मुझे बिलकुल आपके जैसी गांड वाली लड़की चाहिए। वह कहने लगी तो फिर तुम मेरी गांड मारकर ही काम चला लिया करो। मैंने उन्हें कहा आपकी गांड में कितने दिन तक मारूंगा।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


bhabi ko choda jabardastiladkiyon ki chootbhabhi ko choda patakehindi sex story behan ko chodachodai auntymeri chudai ki storyindian chudai porndeasi khanisuhaagrat sex videochoot mein lund ka photomarathi sexi kathaतेरा तो तेरे जीजा जी से भी बहुत बड़ा हैmastram ki hindi fontगरम लौडा से दीदी और मम्मी की गांड मारीbus ki chudainonvegstories combhai ne mujhe zam k codasexy story in bhojpurigharwali ki chudaichoti behan ki chudai videochudai ki kahaniya hindi languagechoot kanew hindi sex kahanichoda chudi sexफिरी चूत चुदाई में खून निकला हिंदी कहानियांmoti aunty chudaigalti se chud gaimom ki chut ki kahaninind me gand marichut ki chudai hindi kahanicall girl ki chudai kahanidesi baal wali chutantarvasna hindi sex storebhai bahan chudai kahani hindihindy sexyसेक्स का पहला अनुभव सेहली के सथाbhai behan chudai story in hindichut lund in hindiबिंदु भाबी सेक्सी स्टोरीbhai behan story hindikutti ki tarah chudisex khaniya hindi menisha ki chudaiaunty ki chudai hindi sex storykuwari ladki ki chudai ki kahani hindi mekutta se chudwaichachi ki chut storywww indian hindi sex stories comsex image chutsexy boobs ki kahaninangi bhabhibhai bahan chudai hindi kahaninew bhabhi ki chudai kahanichudai hindi font kahanimausi ki ladki chudaisasur ne choda hindi kahanigirlfriend ki chudai story in hindichoot mei lundbehan ki chudai ki kahani hindi meDesi chodai ki kahanihttps://econompolit.ru/school-teacher-sunita-ki-antarvasna/dehati aurat ki chudaiaaliya bhat sexबहन को माँ के कहने से माँ बनायाbhabhi new sexmaa chudai hindi storydesi bhabhi ki kahanichut chudai desixxx hindi khaniyachut ki chudai ki kahanichudasi bhabhi comchutchudai with hindiporn sex chudaikamukta ma bete ka suhagrat